Shayari on love

Mohabbat Ka Ehsaas To Hum Dono Ko Hua Tha
Fark Sirf Itna Tha Ki Usne Kiya Tha Aur Mujhe Hua Tha

 

जो शख्स तेरे तसव्वुर से हे महक जाये
सोचो तुम्हारे दीदार में उसका क्या होगा

 

Karne Lage Jab Shikwa Usse Uski Bewafai Ka
Rakh Kar Hont Ko Hont Se Khamosh Kar Diya

 

वापस लौट आया है हवाओं का रुख मोड़ने वाला
दिल में फिर उतर रहा है दिल तोड़ने वाला

 

Mare To Lakhon Hongey Tujhpar
Main To Tere Saath Jeena Chhaahta Hun

 

तू हज़ार बार भी रूठे तो मना लूँगा तुझे
मगर देख मोहब्बत में शामिल कोई दूसरा ना हो

 

Duniya Ko Aag Lagane Ki Zarurat Nahi
To Mere Saath Chsl Aag Khud Lag Jayegi

 

प्यार वो नहीं जो हासिल करने के लिए कुछ भी करव दे
प्यार वो है जो उसकी खुशी के लिए अपने अरमान चोर दे

 

Taras Gye Hai Hum Tere Muh Se Kuch Sunne Ko Hum
Pyaar Ki Baat Na Sahi Koi Shikayat Hi Kar De

READ :  Sad shayari

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *